Breaking News

इटावा: 2 किशोरों की डूबकर मौत मामले में शिवपाल यादव की पार्टी के महासचिव प्रशांत यादव गिरफ्तार


इटावा में गैर इरादतन हत्या मामले में पीएसपी लोहिया के महासचिव प्रशांत यादव भेजे गए जेल (File Photo)

इटावा में गैर इरादतन हत्या मामले में पीएसपी लोहिया के महासचिव प्रशांत यादव भेजे गए जेल (File Photo)

Etawah News: इटावा में थाना ऊसराहार क्षेत्र के कदमपुर गांव में दो किशोरों की तालाब के लिए खोदे गए गड्ढे में डूबकर मौत हो गई थी. इस मामले में पुलिस ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के महासचिव प्रशांत यादव को गिरफ्तार कर लिया है.

इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के थाना ऊसराहार क्षेत्र के गांव कदमपुर में दो किशोरों के डूबकर मरने के मामले में शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (PSP Lohia) के प्रदेश महासचिव प्रशांत यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. थाना प्रभारी अमरपाल सिंह ने बताया कि होली वाली रात दो किशोरों की तालाब में डूबकर मरने के मामले में नामजद प्रशांत यादव के खिलाफ कार्रवाई की गई है, जबकि आरोपी पिता दिनेश यादव की तलाश जारी है. गिरफ्तार नेता पर स्विमिंग पूल के पानी की निकासी के लिए अवैध रूप से तालाब तैयार कराने के कारण किशोरों की मौत का आरोप लगाया गया था.

थाना ऊसराहार क्षेत्र के गांव कदमपुर में सोमवार की रात तालाब में डूबकर मरे दो किशोरों इमरान और दिलशाद की गैरइरादतन हत्या के मामले में नामजद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रदेश महासचिव प्रशांत यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. प्रशांत यादव पर मृतक के परिजनों ने गांव में लोगों के विरोध के बाद भी दबंगई के बल पर अवैध रूप से तालाब का निर्माण कराए जाने का आरोप लगाया था. इस तालाब में फार्म हाउस पर बनाए गये तालाब के पानी की निकासी का आरोप लगाया गया था. पुलिस ने प्रशांत यादव को उनके पैतृक निवास उदयपुर कला से पकड़ा.

पूर्व भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव पर भी आरोप
सोमवार को दो किशोरों के शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया था. दोनों के शवों के मिलने के बाद परिजनों ने करीब 3 घंटे तक जाम लगाकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. दोनों की मौत को लेकर पीड़ित परिवारों की ओर से इलाके के एक दबंग कहे जाने वाले पूर्व भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव का नाम तो लिया ही उनके बेटे को भी आरोपी बनाया था. कहा जा रहा है कि करीब 1 महीने पहले दिनेश यादव की ओर से धमकी दी गई थी, जिसके बाद अब यह वारदात घटित हुई.बकरी चराने गए थे किशोर, तालाब में मिले शव

दोनों किशोर दिन में बकरी चराने गए थे, लेकिन देर शाम तक नहीं लौटे तो खोजबीन शुरू की गई. जिसके बाद दोनों के शव तालाब से मिले. सूचना पाकर घटनास्थल पर कई थानों की पुलिस मौजूद रही. पुलिस ने इलाके में माहौल को शांत करने की कोशिश की, लेकिन परिजनों ने शव को सड़क पर रख कर हंगामा किया. घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह, सीओ और एसडीएम ताखा सत्यप्रकाश समेत बड़ी तादाद में पुलिस पहुंच कर हालात को सामान्य बनाया. मौत के शिकार हुए इमरान खान पुत्र मुन्ना खान उम्र 15 वर्ष, दिलशाद खान पुत्र बल्लू खान उम्र 18 वर्ष है. दोनों के शव दबंग दिनेश यादव के तालाब में पड़े हुए थे.

निजी जमीन पर बना है तालाब

आरोप है कि इतनी बड़ी वारदात होने के बावजूद भी दिनेश यादव और उनके समर्थकों ने इस गंभीर प्रकरण को लेकर कोई भी मदद नहीं की, जबकि दिन में एक बड़ी पार्टी दिनेश यादव ने अपने यहां चुनाव को लेकर दी थी, जिसमें सैकड़ों लोग शामिल हुए थे. पुलिस ने गहनता से पड़ताल के बाद पाया कि तालाब का निर्माण निजी जमीन पर गैर कानूनी ढंग से किया गया है. राजस्व विभाग की टीम ने तालाब निर्माण को लेकर पड़ताल की, जिसमें बताया गया कि जिस तालाब में डूबकर दोनों किशोरों की मौत हुई है, वह प्रशांत यादव का ही है. सरकारी जमीन पर इसका निर्माण नहीं किया गया है, जबकि पहले प्रशांत यादव ने सफाई दी थी कि जिस तालाब मे डूबने से किशोरों की मौत हुई है, वो सरकारी जमीन पर बना है.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *