Breaking News

गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियां में जुटी कांग्रेस, रोडमैप बनाने में जुटी


चावड़ा ने कहा , 'यह सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है. लोग उसके कुप्रबंधन के चलते त्रस्त हैं.'

चावड़ा ने कहा , ‘यह सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है. लोग उसके कुप्रबंधन के चलते त्रस्त हैं.’

Gujarat Assembly Elections 2022: जनसंपर्क अभियान के तहत पार्टी के नेता उन लोगों के परिवारों के सदस्यों से व्यक्तिगत रूप से मिलेंगे जो कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अपनी जान गंवा बैठे.

अहमदाबाद. कांग्रेस की गुजरात इकाई ने 2022 के विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Elections 202) के वास्ते प्राथमिक रोडमैप एवं रणनीति तैयार करने के लिए बुधवार को बैठक की. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा, विपक्ष के नेता परेश धनानी और प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी और अर्जुन मोधवाडिया ने दिन में गांधीनगर में बैठक की.

बैठक के बाद चावड़ा ने कहा कि पार्टी गुजरात की भाजपा सरकार की विफलताओं एवं कुप्रबंधन को उजागर करने के लिए विशाल जनसंपर्क अभियान शुरू करेगी.

पार्टी आलाकमान के संपर्क में है नेता

उन्होंने कहा, ‘हम 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए प्राथमिक रोडमैप और रणनीति बना रहे हैं. हम पार्टी आलाकमान के संपर्क में भी हैं और उसके साथ नियमित रूप से चर्चा कर रहे हैं.’ गुजरात कांग्रेस द्वारा अगले चुनाव के लिए राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर को अपने साथ लाने की योजना संबंधी खबरों के बारे में पूछे जाने पर चावड़ा ने कहा कि किशोर या किसी अन्य एजेंसी को शामिल करने का फैसला पार्टी आलाकमान द्वारा किया जाएगा.इन लोगों को जनसंपर्क अभियान के तहत जोड़ा जाएगा

उन्होंने कहा कि जनसंपर्क अभियान के तहत पार्टी के नेता उन लोगों के परिवारों के सदस्यों से व्यक्तिगत रूप से मिलेंगे जो कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अपनी जान गंवा बैठे. उन्होंने कहा, ‘हम ऐसे परिवारों से मिलेंगे और सरकार पर इन परिवारों को चार लाख रूपये की अनुग्रह राशि देने का दबाव डालेंगे. हम लोगों की नाराजगी एवं चिंता को बाहर निकालने देने के लिए विभिन्न कार्येक्रमों के आयोजन पर विस्तृत चर्चा की.’

पिछले चुनावों में रहा था बीजेपी का बोल-बाला

चावड़ा ने कहा , ‘यह सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है. लोग उसके कुप्रबंधन के चलते त्रस्त हैं. विभिन्न सामाजिक संगठन एवं समुदाय भी चाहते हैं कि कांग्रेस लोगों से जुड़े मुद्दे उठाए.’ उल्लेखनीय है कि सत्तारूढ़ भाजपा द्वारा आगामी चुनाव समेत विभिन्न मुद्दों पर अपने विधायकों की बैठक करने के एक दिन बाद प्रदेश कांग्रेस ने अपनी बैठक की. आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी सोमवार को गुजरात में थे और उन्होंने घोषणा की थी कि उनकी पार्टी विधानसभा चुनाव में गुजरात की सभी 182 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *