Breaking News

ममत बनर्जी की व्हीलचेयर वाले वीडियो पर संबित पात्रा का तंज- बेचारा पैर कितने दर्द में है


ममता बनर्जी

ममता बनर्जी

West Bengal assembly Election: तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया था कि ये ‘उनकी जान लेने का भाजपा का षड्यंत्र था.’ हालांकि, चुनाव आयोग ने इससे इनकार किया था

नई दिल्ली.  पश्चिम बंगाल के चुनाव (West Bengal assembly Election) में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banejee) की पैर में लगी चोट लगातार सुर्खियों में है. उनकी पैर में प्लास्टर चढ़ा है और वो व्हीलचेयर पर बैठ कर लगातार रैलियां कर रही हैं. इस बीच बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनकी चोट पर तंज कसा है. पात्रा ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर ममता का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि बेचारा पैर… हिल-हिल कर बता रहा है.. वह कितने दर्द में है.

बता दें कि ममता बनर्जी का एक वीडियो इन दिनों वायरल हो रहा है. इस वीडियो में वो तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से बातचीत कर रही है. 55 सकेंड के इस वीडियो में दीदी व्हीलचेयर पर बैठी हैं. सामने टेबल है. और व्हीलचेयर पर बैठ कर ममता बनर्जी अपने चोटिल पैर को तेजी से हिला रही है. वीडियो में ये भी दिख रहा है कि बनर्जी अपने दूसरे पैर को चोटिल पांव के ऊपर रख देती हैं. हालांकि ऐसा करते हुए वो किसी तरह की तकलीफ में नहीं दिखाई दे रही हैं. कहा जा रहा है कि ये वीडियो नंदीग्राम का है.

कब लगी थी चोट?ममता 10 मार्च को नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद प्रचार करने के दौरान नंदीग्राम में चोटिल हो गई थीं. उनके बायें पैर, सिर और छाती में चोट लगी थी. उन्हें कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां से उन्हें 12 मार्च को छुट्टी मिली थी.

ये भी पढ़ें:-पेट की त्वचा से तैयार किया जीभ, 8 घंटे की सर्जरी के बाद मरीज को मिला नया जीवन

चोट पर राजनीति
तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया था कि ये ‘उनकी जान लेने का भाजपा का षड्यंत्र था.’ हालांकि, चुनाव आयोग ने इससे इनकार किया था कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस नेता पर कोई हमला हुआ था. चुनाव आयोग ने यह बात आयोग के दो विशेष चुनाव पर्यवेक्षकों और राज्य सरकार द्वारा भेजी गई रिपोर्टों की समीक्षा के बाद कही थी. आयोग ने कहा कि बनर्जी को चोट उनके सुरक्षा प्रभारी की चूक के कारण लगी.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *