Breaking News

महाराष्ट्र में कम होते मामलों के बीच और बढ़ेगा लॉकडाउन! आज आ सकता है बड़ा फैसला


स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि टेस्टिंग बढ़ाने के बाद भी महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी दर में गिरावट नहीं आई है. (फाइल फोटो: Shutterstock)

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि टेस्टिंग बढ़ाने के बाद भी महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी दर में गिरावट नहीं आई है. (फाइल फोटो: Shutterstock)

Lockdown in Maharashtra: राज्य सरकार के कुछ अधिकारियों के मुताबिक, रोज मिलने वाले संक्रमण के मामलों में कुछ कमी आई है, लेकिन अभी भी ज्यादातर जिलों में पर्याप्त गिरावट दर्ज होनी बाकी है.

मुंबई. महाराष्ट्र में मौजूद लॉकडाउन 15 मई को खत्म होने जा रहा है. अब कहा जा रहा है कि राज्य में जारी लॉकडाउन महीने के अंत तक बढ़ाया जा सकता है. इस बात की जानकारी अधिकारियों ने दी है. खास बात है कि राज्य में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के मामलों में गिरावट देखी जा रही है. ऐसे में कई जिलों ने पाबंदियों में ढील दिए जाने की मांग की है. हालांकि, अंतिम फैसला बुधवार को होने जा रही कैबिनेट मीटिंग में लिया जाएगा. राज्य सरकार के कुछ अधिकारियों के मुताबिक, रोज मिलने वाले मामलों में कुछ कमी आई है, लेकिन अभी भी ज्यादातर जिलों में पर्याप्त गिरावट दर्ज होनी बाकी है. अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान गोपनीयता की शर्त पर एक मंत्री ने बताया था, ‘करीब 12 जिलों में मामलों में गिरावट देखी गई है, लेकिन यह राज्य का केवल एक-तिहाई हिस्सा है.’ उन्होंने कहा,’बाकी दो-तिहाई में या तो हालात स्थिर हैं या इजाफा देखा जा रहा है. दोबारा खोलने से मामलों में एक बार फिर बढ़त होगी.’ बक्सर के बाद अब गाजीपुर में गंगा नदी में तैरती दिखीं दर्जनों लाशें, कोरोना संक्रमित होने के डर से हड़कंप वहीं, राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि टेस्टिंग बढ़ाने के बाद भी महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी दर में गिरावट नहीं आई है. टोपे ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि महाराष्ट्र सरकार को कड़ी पाबंदियां लागू किए तीन हफ्तों से ज्यादा का समय हो चुका है. इसके बाद भी रोज मिलने वाले मामलों की औसत संख्या 50 हजार से ज्यादा बनी हुई है, जो चिंता की बात है. केंद्र सरकार का हवाला देते हुए टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र के कुल 36 जिलों में से 12 में केस कम हुए हैं, लेकिन कई अन्य जिलों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं.

इससे पहले सामने आए डेटा के अनुसार, देश के कुल 37.23 लाख एक्टिव मामलों में से 80.68 फीसदी आंकड़े केवल 12 राज्यों से हैं. इनमें महाराष्ट्र सबसे आगे बना हुआ है. राज्य में सबसे ज्यादा 6.75 लाख एक्टिव केस हैं. इसके बाद कर्नाटक में 5 लाख 36 हजार 661, केरल में 4 लाख 2 हजार 997 और राजस्थान में 1 लाख 99 हजार 147 मरीजों का इलाज जारी है. www.covid19india.org के आंकड़े बताते हैं कि राज्य में अब तक 51 लाख 38 हजार 973 मामले सामने आ चुके हैं. जबकि, 76 हजार 398 मरीजों की मौत हो चुकी है.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *