Breaking News

शरीर और दिमाग की सेहत को रखना है दुरुस्‍त तो खाएं घी, कई और हैं फायदे Ghee for good health and mind


Benefits Of Desi Ghee: देसी घी स्‍वाद के साथ सेहत के लिए भी बहुत काम की चीज है. बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक हर किसी के लिए देसी घी का सेवन काफी फायदेमंद होता है. यह शरीर को ताकत देने के साथ साथ इम्यूनिटी बूस्‍ट करने की भी क्षमता रखता है. इसके रेग्‍युलर सेवन से कई तरह की बीमारियां दूर रहती हैं. देसी घी हमारे शारीरिक (Body) और मानसिक (Mind) स्वास्थ्य दोनों के लिए ही अच्छा माना जाता है. आइए जानते हैं कि अगर हम अपने खाने में देसी घी को नियमित प्रयोग करें तो यह हमारे शरीर को किन रोगों से बचाने में मददगार करेगा.

इसे भी पढ़ें : स्‍ट्रॉन्‍ग इम्‍यूनिटी चाहिए तो पैक्‍ड फूड से बनाएं दूरी, नए शोध में हुआ खुलासा, जानें वजह

वात के प्रभाव को करता है कम

बॉडी में अगर वात असंतुलित हो जाए तो शरीर में अनेक प्रकार के रोग होने की संभावना बनने लगती है. देसी घी को अगर आप रोज अपने भोजन में शामिल करते हैं तो वात के प्रभाव को कम किया जा सकता है.पाचन शक्ति को बढ़ाता है

देसी घी के प्रयोग से पाचन तंत्र ठीक रहता है और पाचन शक्ति ठीक रहने पर आप किसी भी चीज को बिना किसी सोच विचार के खा सकते हैं. आयुर्वेद में बताया गया है कि देसी घी को सीमित मात्रा में खाने से पाचन शक्ति मजबूत होती है.

कमजोरी को करता है दूर

जो लोग शारीरिक रूप से बहुत ज्‍यादा मेहनत करते हैं या जिम जाते हैं उन्हें देसी घी का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए. यही नहीं, शिशुओं के आहार में भी देसी घी को जरूर शामिल करना चाहिए. इससे उनका मानसिक और शारीरिक दोनों तरह का विकास अच्‍छी तरह होता है.

मानसिक रोगों में फायदेमंद

देसी घी के रेग्‍युलर प्रयोग से याददाश्त और तार्किक क्षमता बढ़ती है. इसके अलावा भी यह कई मानसिक रोगों में फायदेमंद है.

इसे भी पढ़ें : स्‍पाइसी फूड के सिर्फ नुकसान ही नहीं फायदे भी हैं, कई बीमारियों को रखता है दूर

खांसी में आराम

अगर आप हमेशा खांसी से परेशान रहते हैं तो अपने भोजन में नियमित देसी घी का प्रयोग कर सकते हैं. आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार खांसी होने पर देसी घी का सेवन करना लाभकारी होता है।

प्रेग्नेंसी में मददगार

देसी घी का सेवन अगर प्रेग्नेंसी के समय किया जाए तो यह जन्‍म लेने वाले बच्‍चे की सेहत पर अच्‍छा असर डालता है. यही नहीं देसी घी के सेवन से शुक्राणुओं की गुणवत्ता में भी सुधार हो सकता है.

टीबी में लाभकारी

वन एमजी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, आयुर्वेद के अनुसार टीबी के मरीजों के लिए देसी घी का सेवन करना फायदेमंद रहता है. हालांकि टीबी के इलाज के लिए सिर्फ घरेलू नुस्खों पर निर्भर ना रहें बल्कि नियमित अंतराल पर चिकित्सक के पास जाकर अपनी जांच कराएं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *