Breaking News

Climate Leaders Summit: US President Biden sends invitation to PM Modi |Climate Leaders Summit में जुटेंगे भारत समेत 40 देश, न्योता न मिलने से झल्ला गए Imran Khan


नई दिल्ली: जो बाइडेन के राष्ट्रपति बनने के बाद से अमेरिका फिर से सेंट्रल पावर की भूमिका में वापस आता दिख रहा है. राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने जलवायु परिवर्तन (Climate Change) पर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (Climate Leaders Summit) बुलाया है. इस सम्मेलन में उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को भी न्योता भेजा है. 

22-23 अप्रैल को होगा वर्चुअल सम्मेलन

सूत्रों के मुताबिक यह वर्चुअल सम्मेलन (Climate Leaders Summit) 22 और 23 अप्रैल को होगा. इस सम्मेलन में दुनियाभर से 40 देशों के शासनाध्यक्षों को आमंत्रित किया गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इस सम्मेलन में दक्षिण एशिया से भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भूटान के पीएम लोटे शेरिंग और बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना को आमंत्रित किया है.

भारत ने स्वीकार किया न्योता 

न्योते की पुष्टि करते हुए भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने कहा, ‘अमेरिकी प्रेजिडेंट जो बाइडेन ने पीएम मोदी को क्लाइमेट लीडर्स समिट में आमंत्रित किया है. पीएम मोदी ने प्रेजिडेंट बाइडेन के इन प्रयासों की सराहना करते हुए उनका आमंत्रण स्वीकार कर लिया है.’ वहीं बाइडेन ने आतंकवाद की वजह से अपनी साख गंवा चुके पाकिस्तान (Pakistan) को सम्मेलन में नहीं बुलाया है. 

न्योता न मिलने से झल्ला गए इमरान खान

इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (Climate Leaders Summit) में भारत, भूटान और बांग्लादेश को आमंत्रण और पाकिस्तान को न्योता न मिलने से पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (Imran Khan) बुरी तरह झल्ला गए हैं. पाकिस्तानी पीएम ने एक के बाद एक ट्वीट कर अपनी खीज निकाली है. इमरान खान ने कहा,’मैं इस बात पर हैरान हूं कि इस समिट में पाकिस्तान को आमंत्रित नहीं किया जा रहा है. जबकि हमारी सरकार पर्यावरण नीतियों के लिए पूरी तरह समर्पित है. हमने भावी पीढ़ी को क्लीन और ग्रीन पाकिस्तान देने के लिए काफी काम किया है.’

क्लाइमेट चेंज पर हम मदद के लिए तैयार

अपने दूसरे ट्वीट में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने कहा, ‘हमने हरा-भरा पाकिस्तान बनाने के लिए प्रकृति आधारित योजनाएं बनाई हैं और अपनी नदियों को साफ किया है. पिछले 7 सालों में हमने क्लाइमेट को सही रखने की दिशा में काफी काम किया है. जिसकी दुनिया में सराहना हो रही है. हम अपने अनुभवों से किसी भी देश की मदद के लिए तैयार हैं.’ 

क्लाइमेट पर हमारी प्राथमिकताएं तय 

अपने तीसरे ट्वीट में इमरान खान (Imran Khan) ने कहा, ‘मैंने UN Climate Change Conference 2021 COP26 के लिए अपनी सरकार की प्राथमिकताएं पहले ही तय कर ली हैं. अब यह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के ऊपर है कि वह जलवायु परिवर्तन के प्रभाव का मुकाबला करने के लिए कितना गंभीर है.’

पीएम मोदी और राष्ट्रपति बाइडेन की दूसरी मीटिंग

सूत्रों के मुताबिक इस सम्मेलन का लक्ष्य उन 17 देशों को एक मंच पर लाना है, जो दुनिया में करीब 80 फीसदी जीडीपी का योगदान करते हैं और इतनी ही मात्रा में ऊर्जा उत्सर्जन के लिए भी जिम्मेदार हैं. सम्मेलन में दुनिया में ऊर्जा उत्सर्जन के वैकल्पिक उपायों को बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की जाएगी. हाल के दिनों में यह दूसरा मौका होगा, जब पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन वर्चुअल मुलाकात करेंगे. इससे पहले मार्च में दोनों नेताओं ने पहली Quad समिट के लिए वर्चु्अल मीटिंग की थी. 

ये भी पढ़ें- जो बाइडन ने इस ‘ग्लोबल समिट’ के लिए दुनिया के 40 नेताओं को दिया न्योता, PM मोदी भी हैं शामिल

समिट से पहले जॉन कैरी आएंगे भारत

इस वर्चुअल समिट से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के क्लाइमेट मामलों पर विशेष प्रतिनिधि John Kerry भारत की यात्रा करेंगे. वे 5 से 8 अप्रैल तक भारत की यात्रा पर रहेंगे. हाल के दिनों में अमेरिकी रक्षा मंत्री Lloyd Austin के बाद भारत की यात्रा करने वाले John Kerry दूसरे बड़े नेता होंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, ‘समिट से पहले John Kerry की यात्रा का मकसद वर्चुअल सम्मेलन के बारे में डिस्कसन और जल्द होने वाली United Nations Climate Change Conference की तैयारियों पर चर्चा करना है. 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *