Breaking News

Exclusive: श्रेयस तलपड़े ने रखी मन की बात, बोले- बॉलीवुड में एंट्री से पहले कंपलसरी होना चाहिए थिएटर


मुंबई. कोरोना काल ने सिनेमा इंडस्ट्री (Cinema Industry) को काफी पीछे धकेल दिया है. साल 2020 में हावी हुई ये महामारी सिनेमा इंडस्ट्री के कई लोगों के लिए आफत बन गई. लेकिन इन सबके बीच एक्टिंग का धमाल हमें लगातार देखने को मिल रहा हैं. सोशल मीडिया (Social Media) हो या ओटीटी प्लेटफॉर्म्स (OTT platforms) नया टैलेंट निखकर सामने आ रहा है. नए टैलेंट्स को देखने के बाद अब बॉलीवुड एक्टर श्रेयस तलपड़े (Shreyas Talpade) भी ये मानते हैं कि फिल्म इंडस्ट्री में कुछ बदलाव होने चाहिए. उन्होंने न्यूज 18 हिंदी से खास बातचीत में अपनी मन का बात रखते हुए कहा कि बॉलीवुड में बदलाव की बात जब भी मेरे से कोई करता है तो मेरा दो टूक जवाब रहता है कि बॉलीवुड में एंट्री से पहले हर कलाकार को थिएटर जरूर करना चाहिए.

श्रेयस तलपड़े ने किया नेक काम
कहते हैं कि जीवन में नाम कमाना है तो कुछ अच्छा सोचो और अगर सक्षम हो तो दूसरे के भलाई के लिए उसपर अमल कर डालो. कुछ ऐसा ही किया है बॉलीवुड को कई हिट फिल्म्स देने वाले एक्टर श्रेयस तलपड़े (Shreyas Talpade) ने. साल 2020 में कोरोना की मार लोगों पर ऐसी पड़ी और लोगों की नौकरियां जाने लगी, तब उन्होंने थिएटर्स से जुड़े लोगों के लिए एक नेक काम करने की ठान ली.

Shreyas Talpade, OTT app Nine Rasa, Shreyas Talpade Exclusive, Nine Rasa, Shreyas Talpade on theaters, Bollywood, Social Media, श्रेयस तलपड़े, बॉलीवुड, सिनेमा इंडस्ट्रीथिएटर भी ऑनलाइन

श्रेयस तलपड़े थिएटर्स से जुड़े लोगों के लिए एक नया ओटीटी प्लेटफार्म लेकर आए हैं, जिसका नाम है ‘नाइन रासा’ (Nine Rasa). ये प्लेटफार्म पूरी तरह से थिएटर्स प्रेमियों के लिए होगा, जिसमें हिंदी, मराठी, गुजरती, अंग्रेजी/हिंगलिश सहित चार भाषाओं में लोग थिएटर का आनंद ले सकेंगे. ये ऐप 9 अप्रैल को लॉन्च होने वाली है.

‘नाइन रासा’ क्यों रखा नाम
श्रेयस तलपड़े ने कहा कि हमारे जीवन में भी नौ रस होते हैं. इन नौ रसों को एक मंच पर दिखाने के लिए नाइन रासा नाम चुना गया.

अलग-अलग भाषा में होगी स्टेज परफॉर्मेंसेस
न्यूज 18 हिंदी से बातचीत में उन्होंने कहा कि आज लोगों को ओटीटी प्लेटफॉर्म्स की आदत हो गई है. लोगों को फिल्में और वेबसीरीज ऑनलाइन मिल जाती हैं, लेकिन थिएटर लोगों तक नहीं पहुंच पा रहा था, इसलिए इस मंच पर जितनी भी स्टेज परफॉर्मेंसेस होती हैं वो सब देखने को मिलेगी. श्रेयस तलपड़े ने बातचीत में कहा कि नाटक तो बरसों से चल रही एक कला है और ‘नाइन रासा’ में हम कोशिश कर रहे हैं कि कॉमेडी नाटक, ड्रामा, थ्रिलर्स सब हों. उन्होंने कहा कि इसमें काफी यंगस्टर्स हैं और हिंदी, मराठी, गुजराती के कुछ सीनियर कलाकार भी जुड़े हैं.

 Shreyas Talpade, OTT app Nine Rasa, Shreyas Talpade Exclusive, Nine Rasa, Shreyas Talpade on theaters, Bollywood, Social Media, श्रेयस तलपड़े, बॉलीवुड, सिनेमा इंडस्ट्री

भारत के बाहर भी जाएंगा टैलेंट
श्रेयस तलपड़े ने कहा कि थिएटर की पहुंच हर आदमी तक नहीं है. चाहकर भी कई बार लोग थिएटर में मनोरंजन के लिए नहीं पहुंच पाते हैं. उन्होंने कहा कि कई बार में विदेश में भी शूटिंग के लिए जाता हूं तो लोग मुझसे कहते हैं कि थिएटर नहीं देख पाते, ऐसे लोगों के लिए ही ‘नाइन रासा’ है.

‘नाइन रासा’ भरेगा 1500 ज्यादा परिवारों का पेट
श्रेयस ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान जब लोगों की नौकरी चली गई, तभी मैंने थिएटर बिरादरी की मदद के इरादे के लिए सोचा. उन लोगों को लॉकडाउन में इस दुविधा से निकालने के लिए इस प्लेटफार्म में हमने तकनीशियनों, एक्टर्स, लेखकों, लाइट मैन आदि के लिए 1500 से ज्यादा नौकरियां पैदा की हैं.

बॉलीवुड में क्या बदलाव आना चाहिए?
इस सवाल के जवाब में श्रेयस ने कहा कि थिएटर की बदौलत हमें आज मझे हुए कलाकार मिले हैं. अनुपम खेर, मनोज बाजपेयी जैसे कई कलाकारों ने थिएटर पर अपनी अमिट छाप छोड़ने के बाद बॉलीवुड पर कब्जा किया. उन्होंने प्रतीक गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे खुशी है कि थिएटर की दुनिया का एक और नाम बुलंदियां छू रहा है. श्रेयस ने कहा कि मुझसे जब भी कोई बॉलीवुड में बदलाव की बात करता है तो मेरा जवाब होता है कि बॉलीवुड में एंट्री से पहले कम से कम एक साल थिएटर जरूर करो. ये कंपलसरी होना चाहिए.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *