Breaking News

FICCI ने की सरकार से अपील, 18-45 साल के लोगों के लिए भी शुरू हो वैक्सीनेशन


वैक्सीन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वैक्सीन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

फिक्की (FICCI) के प्रेसिडेंट उदय शंकर ने सरकार से मांग की है कि कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम के तहत 18-45 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों को भी जोड़ा जाना चाहिए.

नई दिल्ली. इंडस्ट्री बॉडी फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्री यानी फिक्की (FICCI)  ने सरकार से विभिन्न राज्यों में कोविड-19 संक्रमण की जांच बढ़ाने को कहा है. इसके साथ ही फिक्की ने सरकार से आग्रह किया है कि 18-45 आयु वर्ग समूह के लिए वैक्सीनेशन खोला जाए. फिक्की ने इस महामारी से लड़ाई में इंडस्ट्री की ओर से पूरे समर्थन का भरोसा दिलाया है.

फिक्की के प्रेसिडेंट उदय शंकर ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्ष वर्धन को लिखे पत्र में कहा, ”अभी हम प्रतिदिन 11 लाख सैंपल की जांच कर रहे हैं. जनवरी में हम 15 लाख जांच प्रतिदिन कर रहे थे. इसके अलावा हम संक्रमण की जांच और बढ़ा सकते हैं. देश में कोविड-19 जांच के लिए 2,440 लैब परिचालन में हैं. इनमें से 1,200 से अधिक लैब निजी क्षेत्र से हैं.”

ये भी पढ़ें- LPG Cylinder: सिलेंडर बुक करना हुआ आसान, इस नंबर पर मिस्ड कॉल देकर और Whatsapp के जरिए करें बुक

निजी क्षेत्र की मदद ले सरकारशंकर ने कहा कि राज्यों को वांछित जांच क्षमता हासिल करने के लिए निजी क्षेत्र की सुविधाओं के इस्तेमाल की सलाह दी जा सकती है. शंकर ने सरकार से 18 से 45 आयु वर्ग के लिए भी टीकाकरण खोलने का आग्रह किया है. उन्होंने कहा इस आयु वर्ग की वजह से भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है.

महामारी से निपटने में सरकार को पूरा सहयोग देगा FICCI
उन्होंने कहा, ”देश में टीके की कोई कमी नहीं है. साथ ही निजी क्षेत्र के सहयोग से वैक्सीनेशन तेज किया जा सकता है. ऐसे में इस आयु वर्ग को भी टीका लगाने की शुरुआत की जानी चाहिए. इस आयु वर्ग को टीका लगाने से संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद मिलेगी.” शंकर ने सरकार को भरोसा दिलाया कि इंडस्ट्री इस महामारी से निपटने में सरकार को पूरा सहयोग देगा.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *