Breaking News

अवधी भाषा में पढ़िए- अवध कै औरतन कै गीत मा जीवन कै सुर,पंडित के पोथी से ज्यादा जोगई है | faizabad – News in Hindi

औ हियाँ कै खास बात ई है कि अवधी मेहरारू के लगे हर सगुन-असगुन के तायीं गाना रहत है. ऊ खुस रहै चाहे नाराज रहै, ओकरे लगे हर मौके तायीं गाना रहे, ई बात एकदम पक्की है. केहू कै गरियावै कै होय, चिढ़ावै कै होय, चाहै बधाई देय कै रहै, Continue Reading