Breaking News

कोरोना काल में चुनाव पर सुविधा के हिसाब से सवाल उठाना क्यों सही नहीं है?_covid time selective cricism west bengal election campaign knowat | – News in Hindi

नई दिल्ली. दुनिया में क्या कोई तर्क ऐसा हो सकता है, जो परस्पर धुर-विरोधी परिस्थितियों में एक समान रूप से एक ही व्यक्ति या समूह द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है? यकीनन, ऐसा कोई तर्क नहीं हो सकता. लेकिन अगर मुहावरा प्रचलित है-चित भी मेरी, पट भी मेरी, तो फिर Continue Reading